बडलीया धूणी से बर्खास्त महंत के अनर्गल आरोप से गांव वासियों में भारी आक्रोश


 बडलीया धूणी से बर्खास्त महंत के अनर्गल आरोप से गांव वासियों में भारी आक्रोश



 योगी प्रकाशनाथजी के विरुद्ध 14 सितंबर को दैनिक भास्कर में इतवारनाथ नामक व्यक्ति द्वारा  प्रकाशित विज्ञप्ति एवं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जारी किए गए आरोप पत्र से नाराज होकर बडलीया धूणी पर बडलीया ग्रामवासी एकत्रित हुए उन्होंने बताया कि अपने आप को बडलीया का मंहत बताने वाले इतवारनाथ को उनके अनर्गल कार्यो मे लिप्तता के चलते गाववासीयो ने धूणी से तीन माह पुर्व ही  बर्खास्त कर  महंत की उपाधि छीन ली थीं जिसके कारण  इतवार नाथ द्वारा सच्चे एवं वास्तविक संत योगी प्रकाशनाथजी पर  झूठे एवं अनर्गल आरोप लगाकर योगी प्रकाश नाथ महाराज की छवि को खराब करने वाला बता कर भर्त्सना की तथा गांव वालों को गुंडा एवं आतंकवादी कहने पर इतवार नाथ से अपनी बात वापस लेकर माफी मांगने की बात कही तथा माफी नहीं मांगने पर कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी। 


 


 स्थानीय मठ  की देखरेख करने वाले दिनेश मीणा ने इतवार नाथ द्वारा लगाए गए आरोपों को खारिज करते हुए बताया कि जिस रात इतवार नाथ बीमार हुए थे उन्होंने बहुत ज्यादा शराब पी ली थी शराब पीने से लोहे के पलंग से टकराने पर खून निकलने की वजह से बेहोश हो गए थे ऐसे समय में कुंडी अंदर से बंद थी तो वहां मौजूद वर्कर एवं योगी प्रकाश नाथजी  ने पीछे की जाली तोड़कर उन्हें बाहर निकाल कर डूंगरपुर भर्ती करवाया । सोशल मिडिया पर वायरल हो रहा फोटो उसी समय का हे जिसमे उसके नाक मे नली लगा रखी हे ।

 वागड कि ताजा खबरे देखने के लिए एप्लिकेशन डाउनलोड किजिए- https://play.google.com/store/apps/details?id=com.wagadlive

 पूर्व उप सरपंच गलजी जी भाई ने बताया कि पूर्व में भोले नाथ महाराज द्वारा स्थापित ओरिजनल धूनी को बंद कर देने से आसपास क्षेत्र के भक्त व इतवार नाथ के बीच लंबा विवाद चला था लेकिन योगी प्रकाशनाथजी के आने के बाद भक्तो की धुणी के प्रति आस्था को देखते हुए  मध्यस्थता करते हूए  विवाद निपटाने धुनी को पुनः जागृत करने नि्वेदन किया जिस पर  इतवार नाथ ने धूणी चालु करने का  वचन दिया था लेकिन यज्ञ होने के बाद इतवारनाथ अपने बयान से पलट गए जिसका विवाद बढ़ने पर बनकोड़ा बडलिया चौकले ने अपने खर्चे से 30 दिन की पूजा करवा कर धोनी को पुनः जागृत किया तथा अति रुद्र महायज्ञ मे जो भेट राशि इतवार नाथ के पास आई उसका कोई हिसाब नहीं दिया विवाद बढ़ने पर ग्राम वासियों ने इतवार नाथ का बहिष्कार किया तब गुरु पूर्णिमा पर इतवार नाथ ने अपने चार चेले भेजकर तांत्रिक क्रियाएं करने के प्रयास में बगीचे पर गड्ढा खोदना प्रारंभ किया इस बात का पता ग्राम वासियों को लगने पर सैकड़ों लोग वहां जमा हो गए एहतियातन पुलिस को बुलाना पड़ा पुलिस ने वहां पहुंचकर इतवार नाथ तथा उसके चेलों को पाबंद किया

 इन सब कारणों से नाराज होकर तथा संभाग में योगी प्रकाशनाथजी के बढ़ते कद तथा आम लोगों मे उनकी बढती आस्था से क्षुब्ध होकर इतवार नाथ द्वारा योगी प्रकाश नाथजी महाराज की छवि को धूमिल करने के लिए अखबार मे झूठी विज्ञप्ति प्रकाशित करवाई

वहां मौजूद लोगों ने इतवार नाथ के आपराधिक चरित्र की भी बातें कहीं जिसमें जानवरों पर गोली चलाना , बिना डिग्री के बाद भी अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाना, शराब व गांजा पीकर हंगामा करना , साधु होने  के बावजूद संत समुदाय के विपरीत कार्य करते हुए अनर्गल कार्यों मे लिप्त होने जैसे आरोप लगाएं ।

इस दौरान कमल भाई पाटीदार ,गलजी भाई पाटीदार हीरजी पाटीदार , दिनेश मीणा गलजी भाई कोलखंडा, नानजी भाई ,जग्गू भाई पाटीदार,नाथू भाई पाटीदार आदि उपस्थित रहे।

मा बाड़ी केंद्र पर राशन किट बाटे।





सागवाड़ा|| ग्राम पंचायत ओड के गेदर घाटी हनेला मां बाड़ी केंद्र पर मंगलवार को 30 बच्चों में राशन किट वितरित किए।
शिक्षा सहयोगी दीपक भील ने बताया कि केंद्र पर ब्लॉक कोर्डिनेटर मणिलाल डोडियार के सान्निध्य में बैठक रखी गई। बैठक में कोविड -19 का पालन करते हुवे उचित दूरी ओर सफाई का विशेष ध्यान रखने की अपील की गया। इस दौरान वार्ड मेंबर सुखलाल डामोर, चंदूलाल डिंडोर, हसमुख डामोर, गटू भाई कोतवाल, पूजा, देवीलाल, विजयपाल, प्रवीण डामोर मौजूद थे।

Youtube Video link for today news--- https://youtu.be/Tckx79kUqog


Post a Comment

0 Comments