New Coronavirus Strain: नए कोरोना वायरस से बाजार में हडकंप, सेंसेक्स में 2000 अंकों की गिरावट

 

कोरोना वायरस के लगातार म्यूटेट होने की आशंकाओं के अब प्रमाण मिलने लगे हैं। ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में कोराना वायरस के म्यूटेट होने के बाद नए स्ट्रेन के सबूत मिलने से हड़कंप मच गया है। इसका असर अब दुनियाभर के बाजारों पर भी देखने को मिल रहा है। भारत में सोमवार को शेयर बाजार पर इसका सबसे बुरा असर देखने को मिला। कोरोना वायरस के नए रूप मिलने के बाद शेयरबाजार में हाहाकार मच गया। दोपहर 12 बजे के बाद शेयर बाजार लगातार गिरता गया और सेंसेक्स 2037 अंक तक लुढ़क गया।


अंतरराष्ट्रीय बाजारों में भी गिरावट


कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की खबर आने का असर दुनियभर के बाजारों में दिखा। अंतरराष्टरीय बाजारों से नकारात्मक संकेत मिलने के बाद सप्ताह के पहले कारोबारी दिन में शेयर बाजार की शुरुआत लाल अंक के साथ हुई है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 28 अंक की गिरावट के साथ 46,932 पर खुला और नेशनल स्टॉक एक्सेंज का निफ्टी 19 अंक की गिरावट के साथ 13,741 पर खुला था। शुरुआती कारोबार के दौरान ही गिरते हुए सेंसेक्स 267 अंक टूटकर 46693.95 तक पहुंच गया। वहीं निफ्टी कारोबार के दौरान 86 अंक गिरकर 13,674 तक पहुंच गया था. हालांकि सुबह 10 बजे के बाद इसमें उतार-चढ़ाव देखा गया।

ब्रिटेन व अन्य एशियाई बाजारों में भी हडकंप


कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन के मिलने के बाद ब्रिटेन सहित अन्य एशियाई बाजारों में भी हाहाकार मच गया। नए कोरोना वायरस की दस्तक देने के बाद निवेशकों में चिंता पैदा हो गई है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में आज काफी मंदी देखी गई। हालांकि इस विपरित परिस्थितयों में भी देश में फार्मा सेक्टर से शेयरों ने शानदार प्रदर्शन किया। एलऐंडटी, सिप्ला, सन फार्मा, रिलायंस इंडस्ट्रीज, इन्फोसिस के शेयरों में तेजी रही।

भारत और ब्रिटेन के बीच विमान सेवाओं पर लगी पाबंदी

गौरतलबहै कि ब्रिटेन और दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस के म्यूटेट होने के बाद नया स्ट्रेन मिलने से राजधानी दिल्ली में भी अफरातफरी का माहौल है क्योंकि दिल्ली और ब्रिटेन के बीच डायरेक्ट फ्लाइट है। इसी खतरे के मद्देनजर केंद्र सरकार ने आज रात 12 बजे के बाद से आगामी 31 दिसंबर तक ब्रिटेन आने-जाने वाली सभी फ्लाइट पर पाबंदी लगा दी है।



Post a Comment

0 Comments