डूंगरपुर जिले में 512 बच्चों के कोरोना संक्रमित होने की खबर का सच देखिए

 512 बच्चों के डूंगरपुर जिले में संक्रमित होने की खबर

कोरोना वायरस जितना खतरनाक है उससे कई गुना ज्यादा उसे वायरल करने वाले खतरनाक है।

आपको बता दें कि एक राष्ट्रीय चैनल ने और साथ ही साथ कई दूसरे चैनल ने एक दूसरे की नकल करते हुए डूंगरपुर जिले में 512 बच्चों को कोरोना पॉजिटिव होना बता दिया। 12 दिनों में 512 बच्चे कोरोना पॉजिटिव होने की खबर सोशल मीडिया पर वायरल आग की तरह वायरल हो गई और देखते ही देखते हर किसी की जुबान पर यह चर्चा आम हो गया कि डूंगरपुर जिले में 512 बच्चे कोरोना से संक्रमित हो गए हैं । यहां तक कि एक राष्ट्रीय चैनल ने इसको कोरोना की तीसरी लहर का दर्जा भी दे दिया।

पिछले दिनों देखा जाए तो कोरोना संक्रमण की दर में काफी कमी नजर आ रही है और लोगों में कोरोना से बचने का तरीका और विश्वास बढ़ गया है । लेकिन इसी बीच इस तरह की खबरें लोगों में भ्रामक प्रचार कर रही हैं । इस विषय को लेकर जब जिला प्रशासन से पूछताछ की गई तो पाया गया कि यह खबर पूर्णतया निराधार है । डूंगरपुर जिले में मात्र 20 से 30 बच्चे कोरोना संक्रमित हुए हैं और उनमें से कई ठीक हो चुके हैं और कुछ बच्चों का होम आइसोलेट इलाज जारी है । जिला प्रशासन ने यह भी बताया कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान नहीं दें । जिला कलेक्टर सुरेश कुमार ओला ने इस बात का पूर्णतया खंडन करते हुए कहा कि इस वक्त कोरोना की तीसरी लहर के रूप में कोई केस नजर नहीं आ रहे हैं । बल्कि डूंगरपुर जिले में कोरोना संक्रमण की दर में काफी संख्या में कमी नजर आई है।


सोशल मीडिया पर वायरल होती 512 बच्चे संक्रमित होने की खबर जिसने देखी उसने बिना सोचे समझे इसे वायरल करना उचित समझा लेकिन इसकी तह तक कोई नहीं पहुंचा।

आपको बता दें कि कोरोना महामारी से कई लोग ग्रसित हुए हैं कई परिवारों को काफी नुकसान हुआ है कहीं बच्चों ने अपने मां-बाप को दिए तो कहीं मां बाप ने अपने बच्चों को खो दिया है ऐसी घड़ी में इस तरह की अफवाह उचित नहीं है।

जिला कलेक्टर सुरेश ओला ने क्या कहा?

विडियो देखिए 👇



अपने आप को सुरक्षित रखें कोरोना गाइडलाइन का पालन करें और स्वस्थ रहें मस्त रहें।



Post a Comment

0 Comments