HDFC Bank पर लगा लाखों का जुर्माना, जाने कारण क्या है

 


नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) ने हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (HDFC) पर कुछ मानदंडों का पालन न करने पर 4.75 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. इस सिलसिले में बैंक की ओर से मंगलवार को एक नियामक फाइलिंग में कहा गया, “आपको सूचित करना है कि एनएचबी ने 5 जुलाई, 2021 को तकनीकी गैर-अनुपालन के लिए निगम पर 4,75,000 रुपये से अधिक जीएसटी का मौद्रिक जुर्माना लगाया है।

यह सर्कुलर नवंबर 2013 और जुलाई 2016 से जुड़ा है. एचडीएफसी ने जुर्माना लगाने का कारण बने मामले का संदर्भ देते हुये कहा,”निगम इस पत्र के अनुरूप अनुपालन के लिये जरूरी कदम उठा रहा है । कोरोना काल में जरूरतों को पूरा करने के लिए लोगों ने काफी लोन लिया । यही वजह है कि एचडीएफसी बैंक द्वारा जारी की गई सूचना के ​मुताबिक लोन की कुल राशि इस साल 30 जून तक 14.4 प्रतिशत बढ़कर 11.47 लाख करोड़ रुपये से अधिक हो गई ।

बैंक का अग्रिम लगभग 11,475 अरब रुपये था, जो 30 जून, 2020 तक 10,033 अरब रुपए के मुकाबले करीब 14.4 प्रतिशत वृद्धि दर्शाता है । बैंक ने बताया कि 31 मार्च 2021 से उसके अग्रिम में लगभग 1.3 प्रतिशत की वृद्धि हुई । निजी क्षेत्र के इस बैंक ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के अंत तक उसके घरेलू खुदरा लोन कारोबार में 10.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई, जबकि घरेलू थोक लोन लगभग 17 प्रतिशत बढ़ा ।मार्केट कैप के लिहाज से एचडीएफसी बैंक देश का सबसे बड़ा निजी बैंक है । बैंक का मौजूदा मार्केट कैप 8.26 लाख करोड़ के करीब पहुंच चुका है । एचडीएफसी बैंक ने आईसीआईसीआई बैंक को पछाड़कर देश के सबसे बड़े निजी बैंक बनने का गौरव हासिल किया । इस बैंक में करीब 1.16 लाख से ज्यादा कर्मचारी है ।

जिला संगठन के निर्देशानुसार अनवरत चलने वाले विभिन्न कार्यक्रमो की कड़ी में  सघन वृक्षारोपण कार्यक्रम के अंतर्गत  भाजपा नगर अध्यक्ष सागवाडा श्याम भट्ट ने अपने परिवार के साथ वृक्षारोपण किया।


Today breaking news 👇



Post a Comment

0 Comments