भारतीय संविधान की व्यवस्था को धमकी भरी युवाओं के लिए संदेश


सामाजिक निर्मम जाति पंचायतों को अंकुश लगाने हेतु एवं मृत्यु भोज सहित विभिन्न मुद्दों को लेकर युवाओं महिलाओं की अवहेलना भारतीय संविधान की व्यवस्था को धमकी भरी युवाओं के लिए संदेश का समाज जन द्वारा जाजम से बदतर करने तक का संदेश दे ङाला यह स्थिति  मेघवाल समाज उपखण्ङ खैरवाङा एवं ऋषभदेव जिला उदयपुर के नाथूराम मेघवाल निवासी कनबई ने मेघवाल समाज के युवाओं के लिए देश की शासन व्यवस्था को खुली चेतावनी देते हुए समाज सुधारने की बजाय समाज की कुरीतियों को चालू करने के लिए बढ़ावा देने का कार्य किया है जिससे युवाओं में भारी आक्रोश है इस हेतु रजिस्टर्ड पत्र  डाक द्वारा माननीय उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश,राजस्थान राज्य के माननीय मुख्यमंत्री,राजस्थान उच्च न्यायालय माननीय  मुख्य न्यायाधीश ,राजस्थान मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष एवं जिला एवं सेशन  न्यायालय उदयपुर के न्यायाधीश को मृत्यु भोज रोकथाम  सहित निर्मम जाति पंचायतों के कार्यों को लेकर दण्ड संहिता पर आवश्यक कार्यवाही सहित विशेष न्याय के लिए समूचे जिले राजस्थान राज्य एवं संपूर्ण देश की जाति पंचायतों( खाप पंचायत )के फैसलों पर अंकुश लगवाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया व प्रिन्ट्  मीडिया सहित माननीय न्यायालय से न्याय की गुहार लगाई है इस हेतु चन्दू लाल मेघवाल ने अग्रीम उच्च स्तर पर रोकथाम व उचित न्याय की मांग की है यह जानकारी चन्दू लाल मेघवाल द्वारा प्रदान की गई ।



Post a Comment

0 Comments