ट्रांसफारमर के बिच उलजे वानर को बचाने दोडे लोग लेकिन नही बच पाया करंट के आगे

 



डूँगरपुर जिले के आसपुर तहसिल अन्तर्गत बनकोडा गाव के लोकिया बनकोडा बस स्टेंड के पास विधुत टांसफार्मर पर वानर के छलांग लगाने से ट्रांसफारमर मे ही उलझ गया । उस समय विधुत लाईन चालु थी और वानर के ट्रांसफारमर मे उलजते ही सार्ट सर्किट हुआ और विधुत कि लाईन कट हो गई लेकिन तब तक वानर को करंट का जबरजस्त झटका लग चुका था । वह बुरी तरह से जुलस गया । लगभग आधे तक विधुत टांसफार्मर मे उलझे वानर को गांव वालो कि मदद से निचे उतारा गया । और विधुत विभाग को सुचित किया गया और लाईन को तुरंत बंद करवाया गया । विधुत विभाग के टेक्निशियन मुरारी लाल भी मोके पर पहुचे । गाव वालो ने पशु चिकित्सालय बनकोडा मे डॉ को सुचित किया मोके पर पशु चिकित्सालय बनकोडा के डॉ ने पहुच कर दवाई मरमपट्टी व इन्जेक्शन देकर प्राथमिक उपचार किया । लेकिन एक डेढ घंटे बाद वानर ने अपने प्राण त्याग दिए । विडियो मे देखिए डॉ द्वारा इलाज👇



इसके बाद छगन भाटीया, निकुल दर्जि, अविनाश दर्जि, यशवंत गोस्वामी, सुमित भाटीया, हर्षित भाटीया, अक्षय भाटीया आदि ने वानर को ससम्मान फुल माला पहना कर जमिन मे दफनाया । विडियो मे देखिए पुरी घटना👇


वानर के ट्रांसफार्म़़ में उलझने की खबर मिलते ही आसपास के मोहल्ले से लोग मानवता के नाते अपने सारे काम छोडकर दौड़कर पहुंच गए और अपने अपने तरीके से जतन करते हुए वानर को बचाने के प्रयास में जुट गए लेकिन विद्युत विभाग की लाइन के आगे उनकी सारे जतन निष्फल नजर आए । वे वानर को बचाने में असमर्थ रहे उन्होंने जब तक वानर जिंदा था उसके खाने-पीने का इंतजाम भी किया और बचाने का भरसक प्रयास कर मानवता की मिसाल पेश की ।



Post a Comment

0 Comments