कल से प्रदेश में 108 ,104 एंबुलेंस सेवा बंद नहीं हुआ कर्मचारियों की मांगों का समाधान

 


कल से प्रदेश में 108 ,104 एंबुलेंस सेवा बंद नहीं हुआ कर्मचारियों की मांगों का समाधान

24 को सुबह प्रदेश भर से आए  कर्मचारी 22 गोदाम पर देंगे धरना

राजस्थान एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह शेखावत ने बताया कि एंबुलेंस कर्मचारी काफी समय से अपनी मांगों को लेकर संघर्ष कर रहे हैं लेकिन सरकार झूठे आश्वासन के  अलावा कुछ नहीं मिला एंबुलेंस कर्मचारी अपनी मांगों का समाधान करवाने के लिए 2 फरवरी को मिशन निदेशक नरेश कुमार ठकराल व परियोजना निदेशक अनिल पालीवाल जी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के माध्यम से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्रीमान रघु शर्मा जी से मिले लेकिन उसके बाद भी किसी तरह से कर्मचारियों की मांगों का समाधान नहीं हुआ


शेखावत ने बताया कि 12 फरवरी को एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों की सिद्धार्थ होटल अजमेर रोड पर बैठक की गई जिसमें तय किया गया था कि 22 फरवरी तक कर्मचारियों की मांगों का समाधान नहीं हुआ तो 23 फरवरी को पूरे प्रदेश में एंबुलेंस सेवा बंद कर दी जाएगी जिसके लिए मिशन निदेशक महोदय को चेतावनी पत्र भी दिया गया था व उसके बाद लगातार मिशन निदेशक नरेश कुमार ठकराल राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से यूनियन के पदाधिकारी बैठक करते रहे लेकिन एंबुलेंस कर्मचारियों की मांगों का समाधान नहीं हुआ


शेखावत ने बताया कि आज भी मिशन निदेशक नरेश कुमार ठकराल राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से यूनियन के पदाधिकारियों ने मुलाकात की और कर्मचारियों की मांगों का समाधान करने की गुहार लगाई लेकिन मिशन निदेशक महोदय ने और समय देने  के अलावा किसी तरह से समाधान करने का नहीं बोला इसलिए अब यूनियन कर्मचारी और समय देने के मूड में नहीं है समय देते देते करीब डेढ़ वर्ष हो गया है इसलिए एंबुलेंस कर्मचारी मजबूरी में कल से एंबुलेंस सेवा बंद कर रहे हैं


शेखावत ने बताया कि कर्मचारियों का 20 परसेंट बढ़ा हुआ वेतन का एरियर दिलवाने व 8 घंटे कार्य समय लागू करवाने की मांगों को लेकर 23 फरवरी शाम 8:00 से पूरे प्रदेश में एंबुलेंस सेवा अनिश्चित काल के लिए बंद रहेगी व  24 फरवरी सुबह 22 गोदाम पेट्रोल पंप के पास प्रदेशभर से आए कर्मचारी धरना देंगे  जब तक मांगे पूरी नहीं होती तब तक एंबुलेंस सेवा प्रदेश भर में बंद रहेगी ।



Post a Comment

0 Comments