हेंडपंप उगाने वाली सडक, संबधित विभाग कि कार्यशेली पर प्रश्नचिंह लगाती है...

 


आगे कि खबर देखने के लिए लिंक पर क्लिक किजिए👉 विकास का पिटारा

वेसे तो आपने कई अजिबोगरिब किस्से सुने होंगे जिसमे चौकाने वाली बाते होती है, कई बार यह भी सुना होगा कि रातो रात गायब कुए पर बना दि बिल्डिंग, भूमाफिया ने किया शमशान पर काब्जा वगेरह।

लेकिन डूंगरपुर जिले के सागवाड़ा तहसील अंतर्गत सागवाड़ा से गलियाकोट रोड पर महाराणा प्रताप स्कूल के पीछे हाउसिंग बोर्ड कि तरफ जाने वाले रास्ते पर आवासीय क्षेत्र में जाने वाले रास्ते पर बीच सड़क में खड़ा एक बंद हैंडपंप ऐसा प्रतीत होता है मानो यह हैंडपंप पिछली


बरसात में पानी की वजह से उग आया हो । क्योंकि नातो हैंडपंप के चारों और किसी प्रकार का थाला बना हुआ है ना ही बावंट्री कि हुई है । और ना ही यह हैंडपंप पानी दे रहा है फिर भी न जाने किस वजह से बीच सड़क में इस हेंडपंप को खड़ा किया गया है । कई बार ऐसा प्रतीत होता है कि यह हैंडपंप सड़क के पास आ गया है या सड़क हैंडपंप के पास चली गई है । लेकिन जैसा भी हो दूर से देखने पर या स्पष्ट प्रतीत होता है कि हैंडपंप बीच सड़क में खड़ा दिखाई दे रहा है । यहां पर अंधेरी रात में पैदल चलने वाले लोगों के लिए भी बहुत बड़ा खतरा साबित करता है । साथ ही दिन में अचानक बाइक सवार या कार चालक अगर यहां पर आते हैं तो बहुत ही बड़े हादसे के शिकार हो सकते हैं । लेकिन संबंधित विभाग की लापरवाही यह स्पष्ट करती है कि इस हैंडपंप को जब तक कोई हादसा नहीं होगा नहीं हटाया जाएगा ।

 मामला सागवाड़ा तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत गोवाडी अंतर्गत बताया जा रहा है ।  स्थानीय निवासियों ने बताया कि यह क्षेत्र ग्राम पंचायत गोवाडी अंतर्गत आता है । और इस संबंध में पहले भी कई बार शिकायत की जा चुकी है लेकिन किसी ने इस हैंडपंप को हटाने की कवायद नहीं की है । ऐसे में कहीं न कहीं ऐसा प्रतीत होता है कि इस तरह के हैंडपंप बहुत ही बड़ा हादसा खड़ा कर सकते हैं। 



एक एसा अस्पताल जहा इंसान से ज्यादा बेसहारा पशु घुमते है 👇 विडियो पर क्लिक किजिए


Post a Comment

0 Comments