खोड़निया ने की राजकीय हॉस्पिटल सागवाडा को जिला हॉस्पिटल घोषित करने की मांग

 


अगली खबर देखने के लिए लिंक पर क्लिक किजिए- 27 हजार शिक्षा मित्र होंगे नियमित?

खोड़निया ने की राजकीय हॉस्पिटल सागवाडा को जिला हॉस्पिटल घोषित करने की मांग

डूँगरपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष दिनेश खोड़निया ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात कर सागवाडा पंडीत दिन दयाल उपाध्याय राजकिय चिकित्सालय को जिला जिला चिकित्सालय घोषित करने की मांग रखी है । 

जिला अध्यक्ष ने बताया की सागवाडा जनजातीय क्षेत्र का केंद्र बिंदु है और यहां के आसपास के क्षेत्र से सभी लोग गुजरात इलाज कराने जाते है । जिसमे काफी पैसा खर्च होता है, इसलिए सागवाडा को जिला हॉस्पिटल बनाने से क्षेत्र की जनता को ज्यादा डॉक्टर, नर्स मिलेंगे और ज्यादा से ज्यादा सुविधा उपलब्ध होगी, जिससे आस पास के क्षेत्र प्रतापगढ़, बाँसवाड़ा, परतापुर, आसपुर के क्षेत्र की जनता को इलाज में लाभ मिलेगा । 

इससे पहले आपको बता दे कि पंडीत दिन दयाल उपाध्याय राजकिय चिकित्सालय मे आए दिन औसतन 1000 से 1200 मरिज ओपिडी मे परामर्श लेने आते है जबकि 80 से 100 मरिज यहा पर दिन मे औसत भर्ति किए जाते है । प्रतिदिन यहा पर 10 से 15 प्रसुता को भर्ति किया जाता है और प्रसुती होती है । साथ ही प्रतिदिन शीत रीतु मे यहा पर 30 से 40 नसबंदि कि जाती है ।

ब्लडबैंक कि बात करे तो यहा पर ब्लड बैंक भी है लेकिन स्टाफ कि कमी के चलते ब्लड बैंक को सही तरिके से क्रियान्वयन नही किया गया है ।

Advertisement- 2100 800₹ (2pics)

Contact- 8209335497


अब अगर पंडीत दिन दयाल उपाध्याय राजकिय चिकित्सालय सागवाडा को जिला चिकित्सालय घोषित किया जाता है तो निश्चिंत तौर पर वागड क्षैत्र के मरिजो को काफि फायदा होगा । सागवाडा राजकिय चिकित्सालय पुरे वागड मे बहुत ही अच्छा और साफ सुथरा अस्पताल है । और अगर इसे जिला चिकित्सालय घोषित किया जाता है तो निश्चिंत तौर पर वागड क्षैत्र के लिए यह एक खुश खबर आएगी ।

नगरपालिका सागवाडा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी कि बहुत बडी जीत के बाद एक के बाद एक विकास के कार्य पर कांग्रेस पार्टी के जिला अध्यक्ष दिनेश खोडनिया पहल कर रहे है । पहले भी राजस्थान सरकार ने 110 करोड के बजट को सागवाडा के विकास के नाम सरकार ने घोषित किया है ।

जयपुर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निवास पर विशेष मुलाक़ात करते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दिनेश खोडनिया ने डूंगरपुर ज़िले के विकास कार्यों को राज्य के बजट में शामिल करने की मांग की है । खोडनिया ने सागवाडा - कोकापुर माण्डव से पुनाली तक सड़क निर्माण, बड़गी - गरियाता से चिखली तक सड़क निर्माण, गोवाडी से गायत्री शक्तिधाम होते  पंचवटी तक  सड़क निर्माण और खोड़निया ने  पेयजल की उपलब्धता को सुनिश्चित किये जाने को लेकर माही नदी से  भीलूड़ा जेठाना  एवम सागवाडा के लिए पेयजल योजना के लिए ₹40 करोड़ रू की स्वीकृत किये जाने कि भी मांग कि है। माही नदी से चितरी, बडगी व भेमई तक पेयजल योजना के लिए 31 करोड़ रू और सागवाड़ा नगर में आदिवासी सांस्कृतिक केंद्र सामुदायिक भवन के लिए 6 करोड़ की स्वीकृति प्रदान करने की मांग की है । उन्होंने मुख्यमंत्री से  औबरी में पुलिस थाना  सागवाडा कोलोनी में  सदर पुलिस थाना तथा आसपुर मे पुलिस उप अधीक्षक कार्यालय  और चौरासी क्षेत्र के पीठ मे पुलिस चौकी खोलने की मांग की है ।

खोडनिया ने राजस्व विभाग  में बनकोड़ा (आसपुर) में उप तहसील  ओबरी (सागवाड़ा )में उप तहसील तथा दोवडा (आसपुर) में तहसील कार्यालय  तथा गामडी अहाडा डूंगरपुर में उप तहसील  और डूंगरपुर जिले के बिछीवाड़ा में एसीजेएम कोर्ट खोलने के की मांग की है ।

खोड़निया ने सागवाडा के  दीनदयाल हॉस्पिटल को जिला चिकित्सालय में क्रमोन्नत करने की मांग की है ।




Post a Comment

0 Comments