स्वच्छ सागवाड़ा स्वस्थ सागवाड़ा- लेकिन केसे ? ऐसे सैनिकों को सलाम जो दिन रात जुटे हुए हैं...

 


स्वच्छ सागवाड़ा स्वस्थ सागवाड़ा लेकिन कैसे?

जब हम बाजार से कुछ सामान खरीद कर लाते हैं तो प्लास्टिक की थैली और अखबार या किसी ऐसे पात्र में लाते हैं जो सामान उपयोग में लेने के बाद हम उसे फेंक देते हैं । हमें यह ज्ञात नहीं होता है कि वह कचरा कितनी गंदगी फैलाता है और उसे साफ करने वाला किस तरह से साफ करता है।


नगर पालिका सागवाड़ा क्षेत्र में साफ सफाई अभियान के तहत नगरपालिका कर्मचारी जी जान से दिन रात एक कर के ऐसी गंदगी भी साफ करने में जुटे हुए हैं जहां से आम नागरिक गुजरता है तो वह सामने भी देखने के लिए कतराता है । लेकिन कभी यह नहीं सोचता कि यह गंदगी हम ही ने फैलाई है अगर थोड़ा सा हम अपनी तरफ से प्रयास करें तो इतनी गंदगी नहीं फेलेगी ।


मौज शौक के लिए दिनभर हजारों की संख्या में लोग पान गुटखा तंबाकू बीड़ी सिगरेट आदि का सेवन करते हैं। और जगह जगह पर पान गुटखा थुक कर गंदगी फैलाते हैं । लेकिन यह नहीं सोचते कि हर कहीं गुटका और पान थूकने से कितनी गंदगी फैल रही है।


हमारे द्वारा फैलाई गई इस गंदगी को साफ करने के लिए नगर पालिका के कर्मचारी किस तरह से इस गंदगी को साफ करने में जुटे हुए हैं आप इन चित्रों में देख सकते हैं। अगर हम जरा सी भी मानवता रखें तो हम सौगंध खा लें कि आज के बाद हम इस तरह की गंदगी ना फैलाएं की नगर पालिका के कर्मचारियों को दुविधा हो ।


आए दिन देखने में आता है कि बाजारों में लोग चाय पीने के बाद खाली कप को वहीं पर फेंक देते हैं और कुछ ही देर के बाद वहां पर खाली पड़े हुए कप ईधर-उडते हुए नालियों में जा गिरते हैं और नालियां चोक हो जाती हैं। और नालियों से पानी की निकासी नहीं हो पाती है और वही पानी कीचड़ बन कर जमा हो जाता है और गंदगी का भयंकर रूप ले लेता है । जिसे साफ करने में नगर पलिका के कर्मचारियों को भारी समस्या का सामना करना पड़ता है। एक छोटी सी हमारी भूल बहुत ही बड़ा गंदगी का आलम बना देती है। नालियों में कीचड़ जमा होने की वजह से मच्छर भी पैदा होते हैं और मलेरिया जैसी भयानक बीमारी का रूप लेते हैं। 

वागड़ लाइव (सागवाड़ा लाइव न्यूज़) नगरपालिका के ऐसे जांबाज सिपाहियों को सलाम करता है जो अपनी जान की परवाह किए बिना दिन रात लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं।


नवनिर्वाचित नगर पालिका अध्यक्ष नरेंद्र खोडनिया के पदभार ग्रहण करने के बाद सागवाड़ा शहर में स्वच्छता अभियान एक युद्ध स्तर पर छिड़ा हुआ है इसमें सहयोग करें।

आम नागरिक से अपील है कि स्वच्छता बनाए रखने में सहयोग करें अपने घर के आस-पास किसी भी तरह का कचरा नहीं फैलाएं और कचरे को डस्टबिन के अंदर ही डालें 


घर में आवश्यकता से अधिक पानी नहीं उपयोग करें 

अपने घर के आस-पास नालियों में कचरा नहीं डालें प्लास्टिक और ऐसी चीजों का परहेज करें जिससे कचरा फैलता है 

पान गुटखा चबाना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है जहां तक संभव हो उसे उपयोग नहीं करें और अगर उपयोग करें तो सार्वजनिक स्थलों पर नहीं थुके ।

स्वच्छता और साफ सफाई से हमारी पहचान बनती है।



Post a Comment

0 Comments