कोविड वैक्सीन और मजबूर जनता, अव्यवस्थाओं के बीच पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय सागवाड़ा, न तो पीने का पानी और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग,

 


कोविड वैक्सीन और मजबूर जनता,

 अव्यवस्थाओं के बीच पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय सागवाड़ा, 

न तो पीने का पानी और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग, 


सकड़ी जगह में वेक्सिनेशन ब्लड बैंक पूरी तरह से वैक्सीनेशन के कब्जे में, लेबोरेटरी, थायराइड की जांच, एक्स-रे विभाग सब कुछ वैक्सीनेशन के लपेटे में है ।

और वैक्सिंग के अलावा लेबोरेटरी जांच करवाने वाले एक्स-रे करवाने वाले थायराइड की जांच करवाने वाले और ब्लड बैंक में आने वाले सभी मरीज बिना वजह से परेशान है।

सकड़ी जगह होने की वजह से वैक्सीन लगवाने वाले तो पहले से ही परेशान हैं और बीच में हवा और पानी नहीं मिलने की वजह से यह परेशानी और बढ़ती जा रही है। मेडिकल रिलीफ सोसायटी का डेढ़ करोड़ रूपया कुंडली मार कर बैठा है अस्पताल प्रशासन । इससे पहले उपखंड अधिकारी राजीव द्विवेदी नगर पालिका अध्यक्ष नरेंद्र खोडनिया, द्वारा बार-बार कहने पर भी अस्पताल में सुविधाएं नहीं दी जा रही है इससे पहले कॉविड वैक्सीन में नगर पालिका द्वारा छाया और पानी की व्यवस्था की गई थी जबकि आरएमआरएस का पैसा अस्पताल के पास पड़ा हुआ है।

नगर पालिका सागवाड़ा को इस विषय में हस्तक्षेप कर वैक्सीनेशन कैंप कहीं अन्य उपयुक्त जगह पर स्थानांतरित करवा कर पानी और छाया की व्यवस्था करवाने की जरूरत है जिससे लोगों को राहत प्रदान होगी अन्यथा इस तरह वैक्सीन लगवाना आने वाले समय के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।


दूसरी तरफ देखा जाए तो अस्पताल के बाहर पार्किंग व्यवस्था पूरी तरह से चरमराई हुई नजर आ रही है।


कुछ समय पहले पार्किंग व्यवस्था को बहुत ही अच्छा कर दिया गया था लेकिन इस समय देखा जाए तो अस्पताल में अस्त-व्यस्त वाहन और पार्किंग की वजह से आने जाने वाले मरीजों और वैक्सीनेशन के दौरान आने वाले लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है ।



Post a Comment

0 Comments