Gold की कीमतों में भारी हलचल, अभी ₹8000 से सस्ता मिल रहा है सोना, देखिए ताजा भाव

 


सोने के भाव में उतार और चढ़ाव जारी है अगर आप सोना खरीदने का मन बना रहे हैं तो यह खबर आपके लिए महत्वपूर्ण है। क्योंकि आज से नए कारोबारी हफ्ते की शुरुआत हो रही है। इसलिए इस हफ्ते कारोबारी सराफा व्यापार की आज सबकी नजर पहले दिन के सर्राफा व्यापार के कारोबारियों की सोने चांदी की रेट पर रहेगी। इस हफ्ते कारोबारी सराफा व्यापार की शुक्रवार आखिरी दिन सराफा व्यापार में नरमी देखी गई थी। इस हफ्ते शुक्रवार को सोने के भाव में ₹151 प्रति 10 ग्राम नरमी देखी गई थी। वहीं चांदी ₹321 प्रति किलो की दर से उतार देखा गया। 

शुक्रवार को सोने का भाव प्रति 10 ग्राम (₹48273) 24 कैरेट का बंद हुआ वहीं चांदी 68912रुपए प्रति किलो के भाव पर बंद हुई। आपको बता दें कि इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन की ओर से केंद्रीय सरकार के द्वारा घोषित छुट्टियों के अलावा शनिवार और रविवार को भाव घोषित नहीं किए जाते हैं।


इससे पहले गुरुवार को सोना 48474 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गई थी। जबकि बुधवार को सोना  48155 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुई थी। वहीं मंगलवार को सोना 47951 रुपये और सोमवार को  47771 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुई थी। एक आंकड़े के मुताबिक पिछले 10 दिनों में सोने के दाम करीब 1 हजार रुपये तक बढ़ चुके हैं।

14 से लेकर 24 कैरेट सोना का ताजा भाव

इस तरह शुक्रवार को भारतीय सर्राफा बाजार में 24 कैरेट वाला सोना 48273 रुपये प्रति 10 ग्राम, 23 कैरेट वाला सोना 48080 रुपये प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट वाला सोना 44218 रुपये प्रति 10 ग्राम, 18 कैरेट वाला सोना 36205 रुपये प्रति 10 ग्राम और 14 कैरेट वाला सोना 28240 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर रहा।



8000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक सस्ता मिल रहा है सोना 


फिलहाल सोना 48500 रुपये प्रति 10 ग्राम के आसपास ट्रेड कर रहा है। इस तरह सोना अब भी अपने रिकॉर्ड हाई से करीब 8000 रुपये प्रति 10 ग्राम तक सस्ता मिल रहा है। पिछले साल अगस्त 2020 में सोना ऑलटाइम हाई पर पहुंच गया था। उस वक्त सोना 56,200 रुपए प्रति दस ग्राम के स्तर पर पहुंच गया था। आपको बता दें पिछले महीने सोने की कीमत में करीब 2,700 रुपये की गिरावट आई थी।


ऐसे सोने से बनते हैं गहने

आपको बता दें कि 24 कैरेट सोना सबसे शुद्ध होता है, लेकिन 24 कैरेट गोल्ड की ज्वेलरी नहीं बनती है। आम तौर पर ज्वेलरी बनाने के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें 91.66 फीसदी सोना होता है। अगर आप 22 कैरेट सोने की ज्वेलरी लेते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि इसमें 22 कैरेट गोल्ड के साथ 2 कैरेट कोई और मेटल मिक्स किया गया है। 


हॉलमार्क देखकर ही खरीदे सोना 

आपको बता दें कि सोना खरीदते समय उसकी क्वॉलिटी का ध्यान जरूर रखें। हॉलमार्क देखकर ही सोने के गहनों की खरीदना चाहिए। हॉलमार्क सोने की सरकारी गारंटी है और भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (बीआईएस) हॉलमार्क का निर्धारण करती है। हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन, नियम और रेग्युलेशन का काम करती है।

ऐसे करें गहने की शुद्धता की पहचान

गहने यानी ज्वेलरी में शुद्धता को लेकर हॉलमार्क से जुड़े 5 तरह के निशान होते हैं, और ये निशान ज्वेलरी में होते हैं। इसमें से एक कैरेट को लेकर लेकर होता है। अगर 22 कैरेट की ज्वेलरी होगी तो उसमें 916, 21 कैरेट की ज्वेलरी पर 875 और 18 कैरेट की ज्वेलरी पर 750 लिखा होता है। वहीं अगर ज्वेलरी 14 कैरेट की होगी तो उसमें 585 लिखा होगा।  आप खुद ज्वेलरी में इस निशान को देख सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments