बिच सड़क पर गाड़ी रोक कर लुटपाट करने की वारदात का आरोप, ग्रामीण इंतजार कर रहे हैं कार्यवाही का


 देवी लाल निवासी काहेला जिला डूंगरपुर ने पुलिस थाना वरदा में रिपोर्ट दर्ज करवा कर बताया कि ग्राम पंचायत काहेला में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय फाटेला विद्यालय के पास में दिनांक 16.03-2022 के रात लगभग 10.00 बजे आशा व जीजा बच्चों समेत्र बोलेरो गाड़ी से 'काहेला से सुराता पगारा जा रहे थे। इस दरमियान फाटेला विद्यालय परकोटे के -पास निलेश, हरीश गोपाल, मोगजी डेण्डोर निवासी काहेला तथा निलेश का जीजी इन तीनों ने मिलकर लट्ट लेकर सड़क के बीच में आकर गाड़ी को रोका तथा शराब पीने के पैसे मांगे नहीं देने पर गाली गलोज किया । डर के मारे आशा ने अपने भाई देवीलाल को फोन किया तो भाई देवीलाल अपने पुत्र के साथ मोके पर गये लेकिन वहा से गाड़ी निकल चुकी थी। ये तीनो पास घाटी पर ही थे देवीलाल को वहां देखते ही तीनों ने गोपाल को चाकू दिखाकर गाडी रोक लि । निलेश एवं उसके जीजा ने ताबड़तोड़ लात घुसो से मारना शुरू कर दिया । इस दौरान मेरे गले में 2 तोला सोने की चैन छीन ली ! बीच- बथान करने आए मेरे पुत्र प्रवीण को भी धमकाया  । इन लोगों ने मुझ पर जानलेवा हमला किया ‌ बाद मे फोन पर भी जान से मारने की देते रहे । इस घटना के बाद ग्राम पंचायत काहेला के ग्रामीणों ने पुलिस थाना वरदा में एक रिपोर्ट दर्ज करवा कर कानूनी कार्रवाई की मांग करते हुए यह कहा था कि ग्राम पंचायत काहेला के आसपास तथा गांव में कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा विद्यालय में ताले तोड़ना, नलों को तोड़ना, शौचालय तोड़ना, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाना, शराब पीकर मुख्य सड़क पर शराब की बोतलें फोड़ना, राहगीरों से मारपीट एवं गाली-गलौच करना और शराब के पैसे मांगना, अशांति फैलाना और विद्यालय के पार्किंग के पास अवैध शराब का ठेका चलाना आदि अनैतिक कार्य हो रहे हैं जिसे तत्काल प्रभाव से रोका जाए । रात के समय उप स्वास्थ्य केंद्र पर पत्थर मारने जैसे अपराधिक कार्य हो रहे हैं और उसी क्रम में 16 मार्च को रात को बड़ी घटना देवीलाल पुत्र जीवा परमार निवासी काहेला के साथ हुई है। जिसको लेकर समस्त ग्राम वासियों में आक्रोश व्याप्त है। ग्रामीणो ने आरोप लगाया हैकि उक्त रिपोर्ट के बावजूद अभी तक कोई कार्यवाही नहीं हुई है । इस रिपोर्ट को देते समय ग्राम पंचायत काहेला के प्यार चंद विशाल मोहनलाल लसु महेश कुमार नरेश कुमार सोहन लाल आदि मौजूद थे।



Post a Comment

0 Comments