जोधपुर हिंसा पर CM ने की हाई लेवल मीटिंग : बर्थडे के सभी कार्यक्रम रद्द, सीएम बोले- दंगा करने वालों से सख्ती से निपटेंगे

 जोधपुर हिंसा पर CM ने की हाई लेवल मीटिंग : बर्थडे के सभी कार्यक्रम रद्द, सीएम बोले- दंगा करने वालों से सख्ती से निपटेंगे



जयपुर। जोधपुर में दो समुदायों के बीच हुए तनाव और हिंसा के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सीएमओ में आपात बैठक बुलाकर लॉ एंड ऑर्डर का रिव्यू किया। गहलोत ने जोधपुर हिंसा के बाद जन्मदिन के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए। लॉ एंड ऑर्डर की बैठक में गहलोत ने असामाजिक तत्वों से सख्ती से निपटने को कहा है। सीएम ने अफसरों से कहा कि दंगा करने वाले किसी जाति, धर्म के हों, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

सीएम ने सुबह अफसरों से जोधपुर के हालात का फीडबैक लिया। बैठक के बाद सीएम ने गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव, जोधपुर के प्रभारी मंत्री सुभाष गर्ग, गृह विभाग के एसीएस अभय कुमार और एडीजी लॉ एंड ऑर्डर हवासिंह घुमरिया को हेलिकॉप्टर से जोधपुर भेजा है।गहलोत ने लोगों से सीएम निवास नहीं आने की अपील की

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के जन्मदिन पर आज सुबह से ही सीएम निवास पर मिलने बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे थे। जोधपुर हिंसा के बाद गहलोत ने फिलहाल सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि वे उन्हें शुभकामना के मैसेज भेज दें, सीएम निवास पर शुभकामना देने के लिए नहीं पहुंचें।


किसी भी हालत में माहौल नहीं बिगड़ने देने के निर्देश

सीएम अशोक गहलोत ने जोधपुर जिला प्रशासन और पुलिस अफसरों से पूरे मामले का फीडबैक लिया है। सीएम ने उपद्रवियों को सख्ती से निपटने और किसी भी हालत में माहौल बिगड़ने नहीं देने की हिदायत दी है। संवेदनशील इलाकों पर पुलिस फोर्स बढ़ा दी गई है। जरूरत पड़ने पर बाहर से पुलिस फोर्स भेजी जा सकती है।


उन्होंने कहा कि जोधपुर में कल देर रात से जो तनाव पैदा हुआ है वो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। हमारे राजस्थान की, मारवाड़ की परंपरा रही है कि सभी समाज के, सभी धर्मों के लोग हमेशा, हर त्योहारों पर भी प्रेम भाईचारे से रहते आए हैं, मैं अपील करना चाहूंगा कि तमाम लोग शांति बनाए रखें और तनाव समाप्त करें।


Post a Comment

0 Comments