24 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद, जारी हुए आदेश

 


उदयपुर की घटना को लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में उच्च स्तरीय बैठक संभागीय आयुक्त एवं पुलिस महानिरीक्षकों को विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश प्रदेशभर में आगामी 24 घण्टे बंद रहेगा इंटरनेट, धारा 144 होगी लागू घटना का वीडियो प्रसारित करने पर होगी सख्त कार्रवाई


जयपुर, 28 जून। उदयपुर में युवक की निर्मम हत्या की घटना के बाद मुख्य सचिव श्रीमती उषा शर्मा ने मंगलवार शाम उच्च स्तरीय बैठक लेकर सभी संभागीय आयुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों एवं जिला कलेक्टरों को प्रदेशभर में विशेष सतर्कता और चौकसी बरतने के निर्देश दिए हैं।


मुख्य सचिव ने कानून-व्यवस्था बनाये रखने की दृष्टि से प्रदेशभर में आगामी 24 घण्टे के लिए इंटरनेट बंद किये जाने, सभी जिलों में आगामी एक माह तक धारा 144 लागू कर चार लोगों से अधिक के एकत्रित होने पर रोक लगाने, पुलिस एवं प्रशासन के सभी अधिकारियों के अवकाश निरस्त करने, शांति समिति की बैठकें आयोजित करने और उदयपुर जिले में आवश्यकतानुसार कर्फ्यू लगाये जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने सभी प्रभारी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशकों को रेंज में भेजने के निर्देश दिये है।


मुख्य सचिव ने सभी संभागीय आयुक्त को निर्देश दिए हैं कि उदयपुर की घटना के वीडियो के मोबाइल एवं अन्य माध्यमों से प्रसार पर सख्ती से रोक लगाई जाए। साथ ही वीडियो को प्रसारित करने वाले लोगों पर नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि धर्म गुरुओं से अपील की जाए कि वे साम्प्रदायिक सौहार्द एवं शान्ति बनाये रखने में सहयोग करें।


अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह श्री अभय कुमार ने कहा कि सभी जिलों में पूरी सतर्कता और संवेदनशीलता के साथ स्थिति पर नजर रखी जाए। पुलिस एवं प्रशासन के सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था को लेकर निरंतर मॉनिटरिंग सुनिश्चित करें।


पुलिस महानिदेशक श्री एम. एल. लाठर ने निर्देश दिए कि उदयपुर की घटना के मद्देनजर कानून-व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी विशेष निगरानी सुनिश्चित करें। साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाले तत्वों पर कड़ी नजर रखी जाये। अगले दो दिन में शांति समिति की बैठक के साथ ही सीएलजी की थानावार बैठके भी आवश्यक रूप से आयोजित की जाएं।


उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए पर्याप्त पुलिस जाब्ता तैनात किया जाए। अतिरिक्त फोर्स की आवश्यकता हो तो तत्काल उच्च स्तर पर सूचित कर जाब्ता मंगवाया जाए। उन्होंने साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वालों के साथ सख्ती से निपटने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ऐसे लोग किसी भी जाति, धर्म या सम्प्रदाय से हो उन पर सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करें।


पुलिस महानिदेशक इंटेलीजेन्स श्री उमेश मिश्रा ने सभी जिलों में प्रभावी इंटेलीजेन्स के निर्देश दिए।



Post a Comment

0 Comments