भाजपाई रंग के विश्राम स्थल पर कालिख, राष्ट्रीय धरोहर का सम्मान नही!!!


 विकास का कार्य चाहे किसी भी रुप मे हो कमसे कम विकास तो हो रहा है और भारत देश मे जनहीत मे जितने भी कार्य होते है या निर्माण होते है वे सब राष्ट्रीय धरोहर है और राष्ट्रीय धरोहर कि सुरक्षा सुंदरता स्वच्छता रखना प्रत्येक भारतिय नागरिक का कर्तव्य है लेकिन डूँगरपुर जिले के आसपुर तहसिल क्षैत्र अंतर्गत कतिसोर गाव के पास कटकेश्वर महादेव मंदिर से भेवडी गांव कि तरफ जाने वाले रास्ते पर उस्मानिया गांव के बस स्टेंड पर बनाया विश्राम स्थल कुछ और ही बया कर रहा है । भारतिय जनता पार्टी के वर्तमान विधायक गोपीचंद मिणा ने विधायक मद से विश्राम स्थल बनाए है और उनपर भाजपाई रंग दिया है । देखने मे सुंदर लग रहा है और यात्रीयो के विश्राम के लिए उपयोगी सिद्ध हो रहा है पर असमाजिक तत्वो ने इस विश्राम स्थल के उपर जहा पर विधायक गोपीचंद मिणा का नाम अंकित है कुछ पोस्टर चिपका दिए है और उसपर एसा कलर लगा दिया है जेसे बरसो पुराना है ।

एसा करने से पुरे विश्राम स्थल कि सुंदरता तहस नहस हो गई है । अब एसा करने से क्या हासिल हुआ । न तो किसी पार्टी को किसी ने दोष दिया न किसी नेता को आने जाने वाले लोगो ने स्थानिय लोगो कि मानसिकता पर प्रश्नचिंह लगा दिया । एसे लोगो के खिलाफ कार्यवाही होनी जरुरी है। आखिर राष्ट्रीय धरोहर कि सुरक्षा करना वहा के लोगो कि जिम्मेदारी है न कि किसी पार्टी या नेता कि । इस विश्राम स्थल पर चाहे राजनिती हुई हो लेकिन जहा तक व्यवस्था कि बात करे तो कही न कही वहा के लोगो के हीत मे ही है । और एसे मे अगर उसकि सुरक्षा नही कि जाए तो सरकार लठ लेकर हर जगह चोकिदार नही खडा कर सकती ।



Post a Comment

0 Comments