थाना एवं वृत स्तर का वांछित भगौडा शातिर ठग 8 वर्ष बाद दौसा से गिरफ्तार किया

 



सराडा।डॉ.राजीव पचार जिला पुलिस अधीक्षक उदयपुर द्वारा चलाये गये वांछित अपराधियों की धरपकड अभियान के तहत एवं मुकेश कुमार सांखला अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण द्वारा प्रकरण हाजा के वांछित मुल्जिमानों के संबंध मे दिये गये विशेष दिशा निर्देशों की पालना मे व हीरालाल वृत्ताधिकारी वृत्त सराडा के निकट सुपरविजन एवं दिशा निर्देशन में थाना सराडा के प्रकरण संख्या 56/2013 धारा 420,406,120 बी भा.द.स. मे वांछित भगौडा रामदयाल उर्फ

छोटेलाल पिता धनपाल मीणा निवासी जैसडी थाना टोडा भीम जिला करौली को दौसा से गिरफ्तार किया गया।


           थानाधिकारी अनिल कुमार बिश्नोई ने बताया कि 8 मार्च 2013 को प्रार्थी छगनलाल पिता कानजी मीणा निवासी चौकडा लिम्बडी थाना सराडा जिला उदयपुर द्वारा 56(3) जा.फो.के तहत इस्तगासा से थाना हाजा पर प्रकरण दर्ज करवाया कि दिनांक 10 जनवरी 2013 को सुबह मैं मेरे परिवार के साथ घर पर था,तभी अभियुक्त विश्रामलाल मीणा एवं रामदयाल मीणा निवासी करौली घर पर आये तथा मीणा समाज के होने से दुर की रिश्तेदारी निकाल कर बाते करने लग गये,जिस पर आस पडोस के अन्य लोग भी घर पर आये,जहां मेरी पत्नी ने सभी को चाय बना कर पिलायी,फिर बातो बातो मे रामदयाल मीणा ने बताया कि मुझे व विश्रामलाल को देवी शक्ति प्राप्त है,जिस पर हम लोग रूपये तथा सोने चांदी की रकमो को देवी शक्ति से दुगना कर देते है।जिस पर वहां पर मौजूद लोगों ने कहां कि 500 - 500 के दो नोट लाओ यह डबल करके बताते है।जिस पर प्रार्थी ने 500 - 500 रूपये की दो नोट रामदयाल व विश्रामलाल को दी तो इन्होने अपने बैग से कांच के टूकडे तथा सफेद कागजो की नोट नुमा गड़डी निकाल कर रखी,फिर उक्त अभियुक्तो ने अगर बत्ती व तेल,दीया मंगवा कर पुजा अर्चना एवं मन्त्रोचार प्रारम्भ किया एवं थोडी देर बाद कांच,गड्डी एवं 500 - 500 के नोट पर लाल कपडा ढक दिया, थोडी देर बाद 500 रूपये की दो नोट से चार नोट कर दी।सभी लोगो को आश्चर्य हुआ,तथा प्रार्थी ने लालच मे आकर गांव के लोगो से छः लाख रूपये उधार लाकर अभियुक्तों को दुगना करने हेतु दिये।शाम को अभियुक्तों ने एक बन्द कमरे के अन्दर पुजा अर्चना एवं मंत्रोचार प्रारम्भ किया तथा प्रार्थी को रूपये लाने हेतु कहां, जिस पर प्रार्थी ने छः लाख रूपये जमीन पर बिचे सफेद कपडे पर लाकर रख दिये,फिर अभियुक्तगणो ने थैले से कांच के टुकड़े एवं सफेद कागज की गड्डीया निकाल कर प्रार्थी द्वारा दिये गये रूपयो के साथ रख दिए, एवं उपर लाल कपडे से ढक दिये एवं दोनो अभियुक्तगण देवी शक्ति के मन्त्रोचार मे लीन हो गये।रात्रि करिब 3 बजे अभियुक्तगणो ने पुरे घर मे गंगा जल छिडकाव करने के लिए कहां,फिर अभियुक्त रामदयाल ने बैग मे से एक स्प्रेनुमा शीशी निकाली एवं स्प्रे प्रार्थी के घर मे करने लग गया, तथा प्रार्थी एवं प्रार्थी के परिजनों को थोडी देर कमरे से बाहर बैठने का कहां,ताकि हम शांति पूर्वक मन्त्रोचार करके नोटों को दुगुना करने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर सके।आधे घण्टे बाद अभियुक्तगण रामदयाल, विश्रामलाल बैग लेकर बाहर निकले तथा कहां कि हम पानी पैशाब करके आते है,तब तक आप बाहर बैठे रखवाली करना, थोडी देर बाद हम सभी बेहोश हो गये,करिब एक घंटे बाद हमारी नींद खुली,तो प्रार्थी ने कमरे के अंदर जाकर देखा तो कांच के कुछ टुकड़े व सफेद कागज़ की गड्डियां पड़ी हुई थी।प्रार्थी के छ: लाख रुपए धोखाघड़ी से अभियुक्तगण लेकर भाग गये।

      वगैरा रिपोर्ट पर प्रकरण संख्या 56/2013 धारा 420,406,120 बी भादस थाना सराडा में दर्ज कर अनुसंधान प्रारम्भ किया गया।दौराने अनुसंधान मुल्जिमान रामदयाल मीणा,विश्रामलाल मीणा के विरूद्ध जुर्म धारा 420,406,120 बी भादस प्रमाणित पायी गयी,मुल्जिमानो की गिरफ्तारी हेतु भरसक प्रयास किये गये मगर मुल्जिमान पुलिस गिरफ्त में नहीं आये,जिस पर मुल्जिमानो के विरूद्ध धारा 299 जा.फो.के तहत माननीय न्यायालय में चार्जशीट दाखिल की गई।अभियुक्त रामदयाल मीणा पुत्र धनपाल मीणा निवासी जैसडी थाना टोडा भीम जिला करौली को थाना सराडा टीम द्वारा 8 वर्षों बाद दौसा से गिरफ्तार किया गया।मुल्जिम  पी.सी.रिमाण्ड पर है।अनुसंधान जारी है।उक्त कार्यवाही में सराडा थानाधिकारी अनिल कुमार बिश्नोई,लक्ष्मीलाल सउनि, रमेशचंद्र हैड कानि,शोभाराम कानि,राज कुमार कनि शामिल रहे।


सराडा से नितेश पटेल की रिपोर्ट



Post a Comment

0 Comments