समय रहते सचेत हुई सरकार अब नहीं होंगे सरकारी स्कूलों में वार्षिकोत्सव कार्यक्रम


 

विधानसभा अध्यक्ष डॉक्टर सीपी जोशी के निर्देश पर शिक्षा राज्य मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने राजकीय विद्यालयों में आयोजित होने वाले वार्षिक उत्सव समारोह को स्थगित कर दिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए और विधानसभा अध्यक्ष डॉक्टर सीपी जोशी के निर्देशों के अनुपालन में वार्षिक उत्सव में आयोजित करने का निर्णय किया है।
विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता गुलाबचंद कटारिया ने शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाया उन्होंने कहा कि जब विधानसभा में यह निर्णय हो चुका था कि कोरोना फैलने के कारण राजकीय विद्यालय में आयोजित होने वाले वार्षिक उत्सव को स्थगित किया जाना चाहिए।

इस आदेश के बावजूद अगर शिक्षा विभाग का निदेशक एक आदेश जारी कर निर्देशित करता है कि वार्षिक उत्सव की तारीख 15, 16 की जगह 31 मार्च तक किए जाएं। उन्होंने कहा कि सदन में निर्णय के बावजूद अगर कोई अधिकारी ऐसे आदेश निकालता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए।
विधानसभा अध्यक्ष डॉ जोशी ने इस मामले को गंभीरता से लिया और उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए कि ऐसे अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए साथ ही उन्होंने कहा कि अब आगामी दिनों में वार्षिक उत्सव कार्यक्रम आयोजित नहीं किये जाए ऐसा निर्णय किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मैं भी एक ही स्कूल के वार्षिक उत्सव समारोह में गया था वहां पर कोरोना से संबंधित गाइडलाइन की अनुपालन नहीं होने की बात सामने आई है। शिक्षा राज्यमंत्री डोटासरा ने सदन में कहा कि उन्हीं के निर्देश पर निदेशक ने आदेश जारी किया है अगर अब विधानसभा अध्यक्ष ने जो निर्देश दिए हैं उनकी विभाग पालना करेगा। उन्होंने घोषणा की कि अब सरकारी स्कूलों में वार्षिक उत्सव के कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे।



Post a Comment

0 Comments