न्यू श्रमजीवी पत्रकार संघ ब्लॉक सागवाड़ा में परिजात का पौधा लगाकर मनाया 75वा स्वतंत्रता दिवस

 

न्यू श्रमजीवी पत्रकार संघ राष्ट्रीय के प्रदेश अध्यक्ष गौरव धत्ते के निर्देशानुसार एवं कार्वाहक जिला अध्यक्ष नेपाल सिंह राठौड़ के मार्गदर्शन में सागवाड़ा ब्लाक के पत्रकार संघ के जिला उपाध्यक्ष जितेंद्र सिंह चौहान के नेतृत्व में विचित्र वे स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर परिजात का पौधा लगाकर स्वतंत्रता दिवस मनाया गया। आपको बता दें कि परिजात का पौधा एक महत्वपूर्ण औषधीय पौधा है और इसके साथ ही इसके कई गुण भी हैं।

पारिजात के पेड़ को हरसिंगार का पेड़ भी कहा जाता है। इसमें बहुत ही सुंदर और सुगंधित फूल उगते हैं। यह सारे भारत में पैदा होता है। इसे संस्कृत में पारिजात, शेफालिका। हिन्दी में हरसिंगार, परजा, पारिजात। मराठी में पारिजातक। गुजराती में हरशणगार। बंगाली में शेफालिका, शिउली। तेलुगू में पारिजातमु, पगडमल्लै। तमिल में पवलमल्लिकै, मज्जपु। मलयालम में पारिजातकोय, पविझमल्लि। कन्नड़ में पारिजात। उर्दू में गुलजाफरी। इंग्लिश में नाइट जेस्मिन। लैटिन में निक्टेन्थिस आर्बोर्ट्रिस्टिस कहते हैं। उत्तर प्रदेश में दुर्लभ प्रजाति के पारिजात के चार वृक्षों में से हजारों साल पुराने वृक्ष दो वन विभाग इटावा के परिसर में हैं जो पर्यटकों को 'देवताओं और राक्षसों के बीच हुए समुद्र मंथन' के बारे में बताते हैं।कहते हैं कि पारिजात वृक्ष की उत्पत्ति समुद्र मंथन के दौरान हुई थी जिसे इंद्र ने अपनी वाटिका में रोप दिया था। हरिवंशपुराण में इस वृक्ष और फूलों का विस्तार से वर्णन मिलता है।


इस अवसर पर देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं भी दी गई।
आपको बता दें कि न्यू श्रमजीवी पत्रकार संघ राष्ट्रीय समय-समय पर पौधारोपण और सामाजिक कार्यकलापों में अपनी अहम भूमिका निभाता है इसके साथ ही जरूरतमंद लोगों को सहयोग भी प्रदान करता है। इससे पहले पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय सागवाड़ा में भी श्रमजीवी पत्रकार संघ ने पौधारोपण का कार्य किया था वह पौधे अभी सुरक्षित और बड़े हो चुके हैं। इस अवसर पर कबीर एम लव, योगेश पंड्या, मुकेश जोशी, कांति लाल मीणा नवीन मीणा निलेश आदि उपस्थित थे।



Post a Comment

0 Comments