जिनालय ध्वजा परिवर्तन एवं सत्तर भेदी पूजा एवं स्वामी वात्सल्य कार्यक्रम बनकोड़ा में कल,

 


अगली खबर-- सागवाड़ा की ऐसी कुछ तस्वीरें जो कड़वा बोलती है

डूंगरपुर जिले के आसपुर तहसील अंतर्गत बनकोडा कस्बें के श्री अजितनाथ जैन श्वेताम्बर जिनालय पर वार्षिक ध्वजा परिवर्तन का कार्यक्रम विमल गच्छाधिपति आचार्य देव प्रद्युम्न विमल सुरीश्वर महाराज के शिष्य रत्न राज पद्म विमल महाराज आदि ठाणा दो की निश्रा तथा श्री अजितनाथ जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक श्रीसंघ के तत्वावधान में 16 मार्च मंगलवार को आयोजित होगा ।  ध्वजा परिवर्तन से पूर्व पुण्य - गुण महिला मंडल द्वारा सत्तर भेदी पूजा सहित विभिन्न धार्मिक अनुष्ठान तथा स्वामीवात्सल्य का आयोजन किये  जायेंगें ।



बैठक का आयोजन - जिनालय की ध्वजा परिवर्तन के तैयारियों को अंतिम रूप देने श्री अजितनाथ जैन श्वेताम्बर मूर्ति पूजक श्रीसंघ द्वारा बैठक का आयोजन कर जिम्मेदारियां सौपी ग्ई । बैठक में नरेन्द्र कुमार तारावत, विनोद भमावत, राजेन्द्र मालवी, चन्द्र प्रकाश तारावत, अमृतलाल भमावत, विनोद संघवी,किरण भमावत, गजेन्द्र मालवी, नरेन्द्र भमावत, देवेन्द्र मालवी, प्रवीण भमावत, कमलप्रकाश तारावत, पवन मालवी, विनायक भमावत, प्राणजीवन मालवी, भरतलाल तारावत, प्रवीण मालवी,  राकेश भमावत, यशवंत भमावत,निर्मल मालवी, रवि भमावत, राहुल भमावत, अभय मालवी, अनिल भमावत सहित युवा उपस्थित थे ।



जिनालय गोमट कार्य पूर्ण - श्री अजितनाथ जैन श्वेताम्बर जिनालय के चारों ओर श्रीसंघ द्वारा गोमट का कार्य का सोमवार को पूर्ण करवाया गया । अहमदाबाद से आये कारीगर प्रकाश तथा थावरचंद ने जिनालय के गोमट के कार्य को अंजाम दिया । अब गोमट का कार्य होने से श्रद्धालु ध्वज दण्ड तथा शिखर तक आसानी से पहुँच सकेंगें तथा बिना डर के ध्वज परिवर्तन तथा पूजन कर सकेंगें ।

बताया जा रहा है कि यह कार्यक्रम आसपुर तहसील अंतर्गत बहुत ही बड़ा कार्यक्रम है और इसमें सैकड़ों की संख्या में जैन समुदाय के श्रद्धालु भाग लेंगे। श्री अजीतनाथ जैन श्वेतांबर जिनालय के संगठन ने बताया कि कोविड-19 सरकार की गाइडलाइन का पालन करते हुए इस कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।


Wagad live application for fast news

Post a Comment

0 Comments