तिन बेटीया एक छ: माह का बेटा और विधवा मां तिन बहने सबका इकलोता सहारा लेकिन कोरोना ने लील ली सबकी खुशी

 


कहते हैं कि जिसका कोई नहीं होता उसका रखवाला ऊपर वाला होता है। मानवता अभी जिंदा है और इसी वजह से हमारे भारत देश में कोरोना जैसी महामारी होने की वजह से भी कई लोग कोविड-19 पॉजिटिव होने के बाद भी जंग जीत कर अपने घर सकुशल लौट रहे हैं । लेकिन कुदरत और ऊपरवाला कभी-कभी ऐसी जगह पर चुक कर देता है जहां बहुत ही बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है लेकिन उसकी भरपाई भी वह जरूर करता है ऐसी ही एक मार्मिक घटना घटित हुई डूंगरपुर जिले के आसपुर तहसील अंतर्गत बनकोड़ा फला ओडा गांव में ।

स्वर्गीय रतन सिंह चौहान निवासी बनकोड़ा ओड़ा जो अपनी जवानी के समय से ही लकवे से पीड़ित हो गए और चलने फिरने जैसी स्थिति में नहीं रहे उनकी तीन बेटियां और एक बेटा जैसे तैसे करके उन्होंने तीनों बेटियों की शादी करवाई और बेटे को पढ़ाई के लिए भेजा । लेकिन कुदरत को कुछ और ही मंजूर था। स्वर्गीय रतन सिंह चौहान जिनकी अकाल मृत्यु हो गई और उनके इकलौते पुत्र के जिम्मे आ गई तीनों बहनों की जिम्मेदारी और विधवा मां की जिम्मेदारी घर में कमाने वाले मात्र एक भगवत सिंह चौहान। जो पैशे से अहमदाबाद में एक निजी संस्था में ड्राइवर के रूप में कार्य करते थे और पिछले लंबे समय से अहमदाबाद में ड्राइवर के पद पर कार्य करते हुए अपने घर का भरण पोषण करते थे। उनके भी तीन बेटियां और एक मात्र 6 माह का बेटा। कुदरत ने कोरोना महामारी के दौरान कोरोना पॉजिटिव होने की वजह से उन्हें मात्र 10 दिन में 27 अप्रैल 2021 को 41 वर्ष की उम्र में काल के ग्रास में ले लिया और यह परिवार फिर से बेसहारा हो गया । मात्र एक भगवत सिंह जो अपने विधवा मां और तीन बेटियां और एक छोटे बेटे का सहारा था उस घर में एक बार फिर से भगवान ने कहर बरपा कर  वज्र तोड़ दिया और यह परिवार बेसहारा हो गया ।


लेकिन कहते हैं कि जिसका कोई नहीं होता है उसका ऊपर वाला जरूर सुनता है और इसी को सुनते हुए समाज के लोगों ने और भामाशाह ने सोशल मीडिया के जरिए मदद के लिए बढ़ाए हाथ और इस परिवार को जिसका कोई नहीं था आज हजारों लोग मदद के लिए तैयार हो गए। 


ऐसी पहल में लोगों ने इस परिवार के खाते में जिसको जितना भी बन सकता है सहयोग देना प्रारंभ कर दिया है वागड़ लाइव न्यूज़ भी आपसे अपील करता है कि इस दुखद घड़ी में आप इस बेसहारा परिवार को सहारा देकर पुण्य जरूर कमाए ।


जो भी आपसे सहयोग बने आप इस खाता नंबर 08730100014242 andara kuvar, Bank of Baroda branch bankora IFSC code BARB0BANKOR पर भेज कर आप अपना स्क्रीनशॉट हमें इस नंबर पर (8209335497) जरूर भेजें ताकि ऐसे ही बुरी घड़ी में दिए गए आपके सहयोग को स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएग।

धन्यवाद।



Post a Comment

0 Comments