तेज हवाओं के साथ गर्जना हुई और बिजली भासोर गांव के एक व्यक्ति की हुई मौत दो अन्य हुए घायल

 


तेज हवाओं के साथ गर्जना हुई और बिजली भासोर गांव के एक व्यक्ति की हुई मौत दो अन्य हुए घायल

प्राप्त जानकारी के अनुसार डूंगरपुर जिले के सागवाड़ा उप खंड अंतर्गत भासोर के लाल शंकर पिता प्रभा शंकर पंड्या उम्र 61 वर्ष निवासी भासोर ने पुलिस थाना सागवाड़ा में कानूनी कार्रवाई हेतु निवेदन किया है कि आज दिनांक 16 मई 2021 को करीब 1:00 बजे दोपहर में उनके भतीजे जितेंद्र पुत्र हरिशंकर पंड्या उम्र 46 वर्ष निवासी भासोर जो खेतों में काम करने गए थे ।  लगभग 2:30 बजे अचानक आकाशीय बिजली की गर्जना हुई तब वे महुआ के पेड़ के नीचे खड़े थे कि आकाशीय बिजली गिरने से चपेट में आ गए । उनके साथ वहां पर विशाल पिता भवानी शंकर पंड्या व कमलेश पिता शिवलाल पंड्या भी साथ में थे । जिन्हें बिजली गिरने से चोटे आई । यह सूचना जब लाल शंकर को प्राप्त हुई तब वे परिजनों के साथ खेतों पर गए जहां से इलाज हेतु जील अस्पताल सागवाड़ा लाया गया । और उन्हें वहां पर डॉक्टरों ने जांच कर जितेंद्र को मृत घोषित कर दिया तथा विशाल और कमलेश का इलाज जिल अस्पताल में चल रहा है । जितेंद्र के शव को राजकीय चिकित्सालय मुर्दाघर में रखवा गया जहां पर डॉक्टर गौरव पाठक ने पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों को सूचित कर दिया है। सागवाड़ा थाना पुलिस एएसआई देवेंद्र सिंह राव और हेड कांस्टेबल बंसीलाल ने पंचनामा कर अग्रिम कार्रवाई हेतु रिपोर्ट पेश कर दी है।

इस प्राकृतिक विपदा के कारण मृतक के परिवार को गहरा सदमा पहुंचा है और साथ ही जितेंद्र पंड्या अपने पीछे 2 बच्चियां , एक 14 साल का बच्चा ओर विधवा मां छोड़ गए है। 

जितेंद्र पंड्या के घर पर उनके परिवार को पालने पोसने वाला मात्र एक ही सहारा जिन्हें भगवान ने परिवार को असहाय कर दिया है। 

सागवाड़ा तहसीलदार डॉक्टर मयूर शर्मा ने बताया कि सरकार कि तरफ से आपदा प्रबंधन समिति ने 4 लाख रुपए आर्थिक सहयोग की शिफारिश की है । 

वही डूंगरपुर: नागरिया पंचेला में आकाशीय बिजली गिरने से 2 बच्चों और 2 बकरियों की मौत, एक बुजुर्ग समेत 3 बच्चे झुलसे

डूंगरपुर. जिले के धंबोला थाना क्षेत्र के नागरिया पंचेला गांव में तूफान के चलते आकाशीय बिजली गिरने से दो मासूमों की मौत हो गई है । जबकि एक बुजुर्ग सहित 3 बच्चे झुलस गए हैं । वहीं 2 बकरियों की भी मौत हो गई है ।

इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है । धंबोला थाना पुलिस के अनुसार नागरिया पंचेला गांव में तौकते तूफान के असर के चलते तेज हवाओं के साथ बारिश हो रही थी । इस दौरान गांव के 65 वर्षीय हाजा और चार बच्चे खेतों पर स्थित आम के पेड़ के नीचे हवा से गिर रहे आम इकट्ठा कर रहे थे । इस दौरान अचानक आकाशीय बिजली आम के पेड़ पर गिरी । इस दौरान बिजली की चपेट में आने से 10 वर्षीय कैलाश और सुनीता की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई । जबकि बिजली की चपेट में आने से बुजुर्ग हाजा और दो अन्य बच्चे भी झुलस गए ।वहीं पेड़ के नीचे खड़ी दो बकरियों की भी मौत हो गई.जिसकी सूचना पर धंबोला थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को डूंगरपुर जिला अस्पताल में भर्ती करवाया । वहीं शवों को सीमलवाड़ा अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है।




Post a Comment

0 Comments